उपहार सिनेमा कांड: गोपाल को सजा और सुशील को राहत

नई दिल्ली, सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को उपहार हादसे के पीड़ितों को बड़ा झटका देते हुए आरोपी गोपाल अंसल को एक साल की सजा सुनाई है। उसमें से उन्होंने 4 महीने की सजा पूरी कर ली है और उन्हें 6 महीने ही जेल में गुजारने होंगे। जबकि सुशील अंसल ने पहले ही अपनी सजा पूरी कर ली है। अदालत ने गोपाल अंसल को 4 हफ्ते के अंदर सरेंडर करने के लिए कहा है।

अदालत ने यह फैसला मामले को लेकर दायर उपहार कांड पीड़ित संघ की याचिका पर सुनवाई के दौरान लिया है।सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में दोनों के ऊपर 30-30 करोड़ रुपए का जुर्माना बरकरार रखा है।

याचिका पर सुनवाई करते हुए दो जजों जस्टिस रंजन गोगोई और जस्टिस कुरियन जोसफ ने यह फैसला बहुमत से लिया है, तीसरे जज जस्टिस आदर्श गोयल की राय हालांकि अलग रही। सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा कि सुशील अंसल जितनी सजा काट चुके हैं वो काफी है.

अदालत के इस फैसले के बाद पीड़ित काफी दुखी नजर आए। एक पीड़ित नीलम कृष्णमुर्ती ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट आकर सबसे बड़ी गलती कर दी। मेंरा न्यायपालिका से भरोसा उठ गया है। हमारी कोशिश बेकार गई। हमें बुरी तरह से नीचा दिखाया है। अमीर और ताकतवर लोग मजे करते हैं।

गौरतलब है कि 1997 में हिंदी फिल्म ‘बार्डर’ के प्रदर्शन के दौरान हुए इस अग्निकांड में 59 दर्शकों की मृत्यु हो गई थी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *