हिमाचल की ऊंची चोटियों पर हिमपात का क्रम रूक-रूक कर जारी, लोग ठिठुरने को मजबूर

शिमला। हिमाचल प्रदेश की ऊंची चोटियों पर हिमपात का क्रम रूक-रूक कर जारी है जिससे जनजातीय ज़िलों में शीतलहर बरकरार है। लाहौल-स्पीति जिले के केलंग में 6 इंच जबकि कोकसर में एक फुट ताज़ा हिमपात हुआ है। किन्नौर ज़िले में ऊंची पहाड़ियों पर हिमपात जबकि अन्य भागों में हो रही वर्षा से ठण्ड बढ़ गई है। कुल्लू ज़िले में प्रसिद्ध पर्यटन स्थल सोलंग नाला, कोठी और पलचान में भी ताज़ा हिमपात हुआ है। राजधानी शिमला में दिन भर चली तेज हवाओं ने लोगों को ठिठुरने को मजबूर कर दिया।

वहीं राज्य के अन्य भागों में आज हल्के बादल छाए रहे जबकि कुछ स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी भी हुई। बीते 24 घंटों में बिलासपुर, चम्बा, कुल्लू व कांगड़ा ज़िले के कुछ क्षेत्रों में हल्की वर्षा का समाचार है। मौसम में आए इस बदलाव से तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। शिमला का न्यूनतम तापमान 3.5 डिग्री लुढ़ककर 5.5 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। केलंग राज्य में सबसे ठण्डा रहा। यहां न्यूनतम तापमान माइनस 1.7 डिग्री दर्ज किया गया। कल्पा में 0.4, मनाली में 0.6, भुंतर में 6.5, धर्मशाला में 7.3, सोलन में 7.5 और नाहन में 9.7 डिग्री सेल्सियस रहा। इस बीच लाहौल घाटी में भारी हिमपात से बाधित विद्युत आपूर्ति को बिजली की अस्थायी तारें बिछाकर बहाल कर दिया गया है। उपायुक्त विवेक भाटिया ने बताया कि मौसम अनुकूल होने पर विद्युत व्यवस्था को स्थायी तौर पर ठीक कर दिया जाएगा। उन्होंने किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए लोगों से इन अस्थायी तारों के समीप न जाने की अपील की है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में मध्यम व अधिक ऊंचाई वाले कुछ क्षेत्रों में हिमपात व वर्षा की संभावना जताई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *