हिंद महासागर में इंडियन नेवी की बढ़ती ताकत से PAK हुआ परेशान

इस्लामाबाद। पाक प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विदेश मामलों के सलाहकर सरताज अजीज ने हिंद महासागर में भारत की बढ़ती ताकत को लेकर चिंता जताई है। अजीज ने कहा है कि भारत के परमाणु प्रसार के चलते हिंद महासागर में सुरक्षा को जो खतरा हुआ है पाकिस्तान उनसे निपटने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार है।

सरताज अजीज पाकिस्तान के कराची में मैरिटाइम कॉन्फ्रेंस में बोल रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि हिंद महासागर में परमाणु प्रसार ने पूरे क्षेत्र को अस्थिर कर दिया है और भविष्य में इसका खतरा और बढ़ेगा।

उन्होंने कहा कि इस महासागर में सैन्यीकरण, जनसंहार के हथियार का प्रसार, मिसाइल की बढ़ती मारक क्षमता और विदेशी सेनाओं की तरफ से लगातार बढ़ावा देना मुख्य चुनौती है। सरताज अजीज ने कहा कि हम अपनी राष्ट्रहित से भलीभांति परिचित है और समुद्री सुरक्षा की बढ़ती चुनौतियों का सामना करने के लिए अपनी क्षमता को और मजबूत करने की दिशा में सभी कदम उठाएंगे। उन्होंने कहा कि हिंद महासागर में जो कुछ घटनाक्रम हो रहा है उन सभी से बेखबर रहना ये कोई विकल्प नहीं है।

अजीज ने कहा कि हिंद महासागर में आज कई तरह की गैर पारंपरिक चुनौतियां और खतरे हैं, जिनमें- पायरेसी, अवैध रूप से मछली पकड़ना, मानव तस्करी, ड्रग्स की तस्करी, हथियारों का गैरकानूनी व्यापार, प्रदूषण और जलवायु परिवर्तन शामिल हैं।

अजीज ने कहा यह पाकिस्तान के हित में है कि क्षेत्र में शांति बनी रहे क्योंकि करीब 95 प्रतिशत इसका व्यापार समुद्री मार्ग के जरिए ही होता है और देश की समुद्री तटरेखा करीब एक हजार किलोमीटर से भी ज्यादा लंबी है। इसके साथ ही, कराची से लेकर ग्वादर बंदरगाह तक तीन लाख स्क्वायर किलोमीटर लंबा एक्सक्लूसिव इकोनॉमिक जोन है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *